सीतापुर-अनूप पाण्डेय/NOI-आज माँ भगवती का 8 दिवसीय नवराता, पेड़ों में पतझड़ समाप्त खिलने लगीं नव कोपलें, गेंहू की फसल कटने को है घर में मां लक्ष्मी का आगमन, जाड़ें और गर्मी के मध्य का सुनहरा मौसम, सरकारी व्यावस्थानुरूप नए वित्तीय वर्ष का प्रारंभ।

ऐसा नया साल जिसको शायद हम आप भूल गए, रेडीमेड नव वर्ष मनाने लगे, परंतु प्रकृति हर वर्ष अपने उल्लास से मनाती है और मनाती रहेगी, आईये पुनः प्रकृति की विशेषताओं को समझें, नव युवक पीढ़ी पुनः अपने नए साल को उसी हर्षोल्लास से मनाए और आने वाली पीढ़ियों को भी एक सीख दी जाए कि हम वो हैं जिन्होंने संसार को स्वाभिमान, संस्कार, और जीवन जीने की सभी कलाएं सौंपी हैं।

भारतीय नव वर्ष की असीम मंगलकामनाएं।।
नवरात्रि की शुभकामनाएं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.