इस्लाम धर्म शान्ति और सद्भावना का धर्म है न की आतन्कवाद् व अराजकता का

सीतापुर-अनूप पाण्डेय,आजम खान /NOI-उत्तरप्रदेश जनपद सीतापुर में
इस्लाम धर्म शान्ति और सद्भावना का धर्म है न की आतन्कवाद् व अराजकता का.आज हिन्दुस्तान सहित कई देश आतन्क् का दन्श् झेल रहे हैं लेकिन इसका व इससे जुड़े लोगों का इस्लाम से कोई लेना देना नहीं है।अमेरिका और इस्राईल् जैसे मुल्क पैसे के बल पर नौजवानो को गुमराह करके उनसे ऐसी हरकतों को अंजाम दे रहे हैं।यह बात 25 तारीख् को होने वाले शिया सूफी कौन्फ्रेन्स् के लिए शनिवार की दोपहर दो बजे शेख् सराय्
स्थित हज़रत् बड़े मखदूम् साहब की मज़ार पर आये शिया धर्म्
गुरु मौलाना कल्बे जव्वाद् ने बड़े मखदूम् साहब की मज़ार पर चादर चढ़ाने के बाद एक प्रेस कन्फ्रेन्स् को सम्बोधित करते हुए कही।उन्होने कहा कि इस्लाम को बदनाम करने की सजिश् की जा रही है इसी को लेकर 25 तारीख् को बड़े इमामबाड़े में एक शिया सूफी जलसे का आयोजन किया जा रहा है जिसमे उत्तर प्रदेश के साथ साथ और भी कई राज्यों से शिया सूफी मौलाना शिरकत करके जलसे को सम्बोधित करेंगे

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.