अपने ही बयान पर घिरे अहमद पटेल
नई दिल्ली/रांची

कांग्रेस के लिए पार्टी के दिग्गज नेता ही अपने बयानों से मुसीबत खड़ी कर दे रहे हैं। सलमान खुर्शीद के बाद अब अहमद पटेल ने भी ‘सेल्फ गोल’ करते हुए कांग्रेस के लिए अहसज स्थिति खड़ी कर दी है। केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने अहमद पटेल को उन्हीं के ट्वीट पर जवाब देते हुए यूपीए शासनकाल में महंगाई के मुद्दे को लेकर घेर लिया।

बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने मंगलवार को राज्यसभा सांसद अहमद पटेल को शुक्रिया कहते हुए तंज कसा। दरअसल अहमद पटेल ने ग्राफ के जरिए महंगाई का आंकड़ा पेश करते हुए ट्वीट किया था, ‘2014 से ही खाद्य मूल्यों में गिरावट से कृषि संकट चिंताजनक हालत की तरफ इशारा करता है। महंगाई में कमी का भार किसानों पर पड़ रहा है। पिछले 4 सालों में कीमतें मुश्किल से 3.6 प्रतिशत बढ़ी होंगी।’
केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने अहमद पटेल को जवाब देते हुए कहा, ‘प्रिय अहमद भाई, इस बात को स्वीकार करने के लिए धन्यवाद कि यूपीए शासनकाल में खाद्य दाम महंगे थे और एनडीए सरकार ने इस पर लगाम लगा रखा है। इसके साथ ही किसानों की लागत में बढ़ोतरी का भी ख्याल रखा गया।’

गौरतलब है कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्‍वविद्यालय के एक कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने एक ऐसा बयान दे दिया जिससे कांग्रेस पार्टी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। एएमयू के एक पूर्व छात्र द्वारा कांग्रेस के शासन काल के दौरान बाबरी मस्जिद विध्‍वंस और सांप्रदायिक दंगों को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में सलमान खुर्शीद ने माना कि कांग्रेस के दामन पर मुसलमानों के खून के धब्‍बे हैं। इस बयान के बाद कांग्रेस पर बीजेपी ने हमला बोल दिया है। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के शासनकाल में 5000 दंगे हुए हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.