गंभीर की कुर्बानी से दिल्ली डेयरडेविल्स को क्या मिला? रिकी पॉन्टिंग ने दिया बड़ा बयान

फिरोजशाह कोटला मैदान पर रविवार को मुंबई इंडियंस को 11 रनों से हराकर इंडियन प्रीमियर लीग में अपना सफर खत्म करने वाली दिल्ली डेयरडेविल्स के हेड कोच रिकी पोंटिंग ने कहा कि लीग के दौरान गौतम गंभीर का टीम के कप्तान का पद छोड़ना हिम्मत वाला फैसला था. पोंटिंग ने संवाददाता सम्मेलन में गंभीर के कप्तानी छोड़ने और श्रेयस अय्यर की कप्तानी की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर ये बात कही.

लीग के बीच में ही गंभीर के कप्तानी छोड़ने के बाद टीम के प्रदर्शन के प्रभावित होने के बारे में पोंटिंग ने कहा, “गौतम के कप्तानी छोड़ने से मुझे नहीं लगता कि टीम के प्रदर्शन पर कोई नकारात्मक प्रभाव पड़ा. मैं ये कह सकता हूं कि मेरे साथ-साथ कई खिलाड़ियों को हैरानी हुई. कप्तानी छोड़ना एक हिम्मत वाला फैसला था क्योंकि उन्हें लग रहा था कि उन्होंने जो किया है वो टीम की भलाई सोच कर किया. ये एक इंसान के रूप में उनके व्यक्तित्व के बारे में कई चीजें दर्शाता है. उनके कप्तानी छोड़ने के साथ-साथ टीम के अंतिम एकादश से हटने के फैसले से पृथ्वी शॉ को खेलने का मौका मिला.”

श्रेयस के कप्तान बनकर टीम को संभालने की बात पर पोंटिंग ने कहा, “श्रेयस के लिए यह काफी जिम्मेदारी की बात रही क्योंकि एक युवा खिलाड़ी होने के नाते उन पर काफी दबाव था और उन्होंने अपने करियर में इस प्रकार की जिम्मेदारी अधिक रूप से नहीं संभाली है. उन्होंने इस चुनौती को अच्छे से संभाला. उनका करियर बहुत लंबा है, न केवल आईपीएल में बल्कि भारतीय क्रिकेट टीम में भी.”

ऋषभ पंत के प्रदर्शन के बारे में पोंटिंग ने कहा, “ऋषभ के लिए ये सीजन शानदार रहा है. खुशी है कि उन्हें ऑरेंज कैप पहनने का मौका मिला. उन्होंने केन विलियमसन जैसे बल्लेबाज को पछाड़ा है. व्यक्तिगत रूप में ऋषभ का ये सीजन शानदार रहा है, उन्होंने शतक भी जड़ा। टीम के कप्तान श्रेयस अय्यर ने भी अच्छा प्रदर्शन किया.”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.