28 C
Lucknow
Friday, August 19, 2022

लखनऊ के लुलु मॉल के बाद अब प्रयागराज जंक्शन के वेटिंग रूम में पढ़ी गई नमाज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के लुलु मॉल में नमाज पढ़ने का मामला अभी पूरी तरह से शांत भी नहीं हुआ था कि प्रयागराज जंक्शन के वेटिंग रूम में नमाज पढ़ने का एक नया विवाद फिर खड़ा हो गया। महानंदा एक्सप्रेस ट्रेन से नाबालिग लड़कों को लेकर जा रहे मौलाना को प्रयागराज में जीआरपी ने स्टेशन पर उतरवाया।

दरअसल, जीआरपी और आरपीएफ को शिकायत मिली थी कि महानंदा एक्सप्रेस से बच्चों को बाल मजदूरी करवाने के लिए ले जाया जा रहा है। जिसके बाद जीआरपी ने ट्रेन के जंक्शन पर पहुंचते ही जनरल बोगी से इन बच्चों और मौलाना को उतारकर जनरल वेटिंग रूम में लाया गया। जहां पर नमाज का वक्त होते ही मौलाना और उसके मौजूद बच्चे मिलकर नमाज पढ़ने लगे। इन लोगों ने उसी वेटिंग रूम के अंदर एक दो नहीं बल्कि दिन भर में 3 बार नमाज अदा की।

गौरतलब है कि इन बच्चों को मौलाना बिहार के खगड़िया और सहरसा जिले से अपने साथ फतेहपुर के मदरसे में ले जा रहे थे। वहीं मौलाना का कहना है कि उन्हें जबरन रोक कर रखा गया। जिसके चलते उन्होंने जनरल वेटिंग रूम में ही नमाज पढ़ी।

वहीं वेटिंग रूम में बाल कल्याण समिति के लोगों ने पहुंचकर बच्चों से बात की। जहां बाल कल्याण समिति के लोग बच्चों को अपने साथ ले जाएंगे और उनके परिवार वालों के आने पर ही उन्हें सुपुर्द करेंगे। बताया जा रहा है कि इनमें से 6 बच्चों को दिल्ली मजदूरी के लिए ले जाया जा रहा था।

Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave a Reply