28 C
Lucknow
Wednesday, June 29, 2022

अग्निपथ योजनाः यूपी में बसों में तोड़फोड़, हरियाणा में इंटरनेट सेंवा बंद, बिहार में प्रदर्शनकारियों ने फूंकी ट्रेनें

लखनऊ। सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ योजना को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। बीतते दिनों के साथ देश के कई राज्यों में विरोध उग्र होता जा रहा है। बिहार में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनें फूंक दी है। वहीं हरियाणा में इंटरनेट सेंवा बंद कर दी गई है। यूपी में भी बसों में तोड़फोड़ की गई है।

अग्निपथ स्कीम को लेकर आज भी युवाओं का विरोध जारी है। शुक्रवार सुबह युवाओं ने उत्तर प्रदेश के बलिया रेलवे स्टेशन पर तोड़फोड़ की। उधर, केंद्र सरकार की इस नई योजना का राजनीतिक दलों ने भी विरोध करना शुरू कर दिया है।

सुपौल में अग्निपथ का विरोध कर रहे छात्रों ने लोहिया नगर चौक ढाला के पास ट्रेन को रोककर प्रदर्शन किया। फिर वहां ट्रेन में आग लगा दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस प्रशासन की टीम प्रदर्शनकारी छात्रों को समझाने की कोशिश कर रही है। आरा के कुल्हड़िया स्टेशन पर पैसेंजर ट्रेन में उपद्रवियों ने आग के हवाले कर दिया। वहीं, पटना-पंडित दिन दयाल उपाध्याय मेन लाइन पर आगजनी कर परिचालन को बाधित भी किया है।

औरंगाबाद में दिल्ली से कोलकाता को जोड़ने वाली नेशनल हाइवे-2 छात्रों ने जाम लगा दिया है। छात्रों ने हाइवे पर टायर जलाकर अग्निपथ योजना के खिलाफ अपना विरोध जताया.बताया जा रहा है कि भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस बल की तैनाती की जा रही है। अग्निपथ योजना का विरोध देखते हुए हरियाणा सरकार सतर्क हो गई है। शुक्रवार को हरियाणा सरकार ने फरीदाबाद के बल्लबगढ़ में इंटरनेट सेवाओं को अगले 24 घंटे के लिए अस्थायी रूप से बंद कर दिया है। नई सेना भर्ती नीति के कारण संभावित कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए खट्टर सरकार की ओर से ये निर्णय लिया गया है।

यूपी के फिरोजाबाद जिले के मठसेना में भी युवाओं ने अग्निपथ योजना का विरोध करना शुरू कर दिया है। यहां आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर शुक्रवार सुबह करीब 5 बजे सेना भर्ती के इच्छुक युवाओं ने अग्निपथ योजना का विरोध किया। इस दौरान उन्होंने कुछ बसों में तोड़फोड़ भी की। वहीं वाराणसी में बस पर पथराव हुआ है।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने अग्निपथ योजना को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि योजना की घोषणा के 24 घंटे भी नहीं बीते कि भाजपा सरकार को नई आर्मी भर्ती का नियम बदलना पड़ा। मतलब, योजना जल्दबाजी में युवाओं पर थोपी जा रही है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से योजना को तुरंत वापस लेने की अपील की है। उन्होंने ये भी कहा कि एयरफोर्स की रुकी भर्तियों में नियुक्ति और रिजल्ट जल्द दिया जाए। साथ ही सेना भर्ती को (आयु में छूट देकर) पहले की तरह कीजिए।

 

 

Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave a Reply