28 C
Lucknow
Monday, December 5, 2022

निदेशक स्थानीय निकाय नेहा शर्मा ने कपूरथला, मिडलैंड अस्पताल इलाके का किया स्थलीय निरीक्षण

नगरीय क्षेत्रों में जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए नगर सेवा पखवाड़ा अभियान चल रहा है : नेहा शर्मा

लखनऊ। निदेशक स्थानीय निकाय नेहा शर्मा ने सोमवार को सायं राजधानी लखनऊ के कुछ इलाकों में साफ सफाई की व्यवस्था का जायज़ा लेने के लिए स्थलीय निरीक्षण किया। कपूरथला चौराहे से पैदल निरीक्षण शुरू किया गया। इस दौरान उन्होंने स्थानीय दुकानदारों से बातचीत की और कूड़ा उठान की वास्तविक स्थिति के बारे में जानकारी ली। दुकानदारों और स्थानीय नागरिकों ने बताया कि सूखे और गीले कचरे का उठान अलग-अलग ही किया जाता है। निदेशक शर्मा ने लोगों को सोर्स सैग्रगीगेषन के बारे में भी जागरूक किया।

नेहा शर्मा इसके बाद सेक्टर बी मंदिर मार्ग होते हुए मिडलैंड अस्पताल चौराहा तक गईं और यहां रास्ते मे अंधेरा और कचरा देखने के बाद संबंधित अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। लिज्जत भवन रोड और विदिशा पार्क के आस-पास मार्गों पर अंधकार के लिए भी संबंधित अधिकारियों को तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश दिए।विष्णुपुरी कॉलोनी में कूड़े का ढेर देखकर निदेशक ने नाराज़गी जताई और संबंधित कंपनी ईको ग्रीन के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

निदेशक स्थानीय निकाय ने बताया कि इस निरीक्षण का मुख्य उद्देश्य संचारी रोगों की दृष्टि से संवेदनशील इलाकों में नगर विकास विभाग की व्यवस्थाओं की ज़मीनी हकीकत जांचना है। इन इलाकों का चुनाव इस आधार पर भी किया गया है क्योंकि ये शहर के व्यस्ततम स्पॉट्स हैं और इसी लिए यहां पर सार्वजनिक शौचालयों का भी निरीक्षण किया गया। इनमें से कुछ की स्थिति संतोषजनक मिली और जहां थोड़ी बहुत कमियां पाई गई हैं उनमें सुधार करने के निर्देश दे दिए गए हैं। जिन पर तुरंत कार्रवाई भी शुरू हो गई है। स्वच्छ त्यौहार के बारे में बताते हुए नेहा शर्मा ने बताया कि छठ जैसे महापर्व का आयोजन हमने ज़ीरो वेस्ट थीम पर किया और अब ये कोशिश रहेगी कि ऐसी प्रैक्टिस आम जन की दिनचर्या में शामिल हों।

 

निरीक्षण के दौरान गोल मार्केट चौराहे पब्लिक टॉयलेट की साफ सफाई सुनिश्चित करवाने के निर्देश भी जारी किए गए और स्थिति संतोषजनक ना पाए जाने पर पीपीपी मॉडल पर सार्वजनिक शौचालय का संचालन कर रही फर्स्ट स्टेप रिहैबिलिटेशन सोसाइटी की कार्यप्रणाली पर नाराज़गी भी प्रकट की। निदेशक नेहा शर्मा ने संबंधित अधिकारियों को सख्त चेतावनी भी दी।

उन्होंने सभी नगरीय क्षेत्रों में मुख्य मार्गों से लेकर गली-कूचो, नाले-नालियों की नियमित साफ-सफाई के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही संचारी रोग एवं मच्छर जनित बीमारियों, डेंगू, चिकनगुनिया से प्रभावित क्षेत्रों में नागरिकों के जीवन को बचाने के लिए एंटी लार्वा का छिड़काव एवं फागिंग कराने की भी विशेष व्यवस्था की जाए। उन्होंने नगरीय व्यवस्था का लाभ लोगों को तत्काल मिले एवं उनका जीवन स्तर बेहतर बने इसके लिए अधिकारियों को सतर्क रहने तथा कार्याे का स्थलीय निरीक्षण करने को भी कहा। उन्होंने सभी अधिकारियों को नागरिकों की शिकायतों का तत्काल संज्ञान लेने एवं इसमें किसी भी प्रकार की ढिलाई, हीला-हवाली, एवं टालने वाली मानसिकता बर्दाश्त नहीं करने को कहा।

स्थलीय निरीक्षण के दौरान अपर निदेशक डॉ0 असलम अंसारी, अपर नगर आयुक्त डॉ अरविंद राव, जोनल सैनिटरी अधिकारी आशीष बाजपेयी, एसएफआई सतेन्द्र नाथ एवं एसएफआई संचिता मिश्रा भी मौजूद रहे।

Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave a Reply