लखनऊ: एसआईटी की रिपोर्ट पर पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर को किया गया गिरफ्तार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर को शुक्रवार को लखनऊ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पूर्व आईपीएस पर मऊ के घोसी से बहुजन समाज पार्टी के सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है।

दुष्कर्म पीड़िता ने दिल्ली में आत्मदाह से पहले इस मामले में सोशल मीडिया पर जारी बयान में पूर्व आईपीएस को माफिया मुख्तार अंसारी के इशारे पर बचाने का आरोप लगाते हुए मानसिक शोषण के साथ न्याय से वंचित करने का आरोप लगाया था। बसपा सांसद अतुल राय के ऊपर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता के मामले में हुई एसआईटी जांच की रिपोर्ट के आधार पर पूर्व आईपीएस की गिरफ्तारी हुई है।

रेप पीड़िता ने आरोप लगाया था कि मुख्तार अंसारी की शह पर रेप के आरोपी अतुल राय को बचाने के लिए पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर के ऊपर आपराधिक ष़ड्यंत्र रचने का आरोप लगाया था। जांच में यह सही पाए जाने पर हजरतगंज पुलिस ने पूर्व आईपीएस को उनके आवास से गिरफ्तार किया है। उन्हें हजरतगंज कोतवाली में रखा गया है। अमित ठाकुर ने कोतवाली में भी हंगामा किया। उनकी पत्नी नूतन ठाकुर भी हजरतगंज कोतवाली पहुंची।

नूतन ठाकुर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उनके पति जब से सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ने और गोरखपुर जाने की बात कही है। तब से हमें परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमें पहले गोरखपुर जाने से एओक गया फिर पुलिस फोर्स को हमारे घर के बाहर तैनात किया गया।

उन्होंने बताया कि पुलिस फोर्स के साथ आई और बिना किसी कारण बताएं उन्हें घर से जबरन उठा के ले गई। नूतन ठाकुर ने आगे बताया कि मीडिया से पता चला है कि दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के बाहर युवती द्वारा आत्मदाह मामले में अरेस्ट जा रहा है। युवती की घटना का स्थल दिल्ली है। लेकिन यह सब राजनीति के चलते किया जा रहा है। नूतन के कहा कि उन्हें अमिताभ ठाकुर की गिरफ्तारी का कोई भी अधिकारिक दस्तावेज नहीं दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − 12 =