28 C
Lucknow
Sunday, October 17, 2021

बीजेपी को हराने के लिए प्रदेश में बनाउंगा महागठबंधन: वामन मेश्राम

बहुजन मुक्ति पार्टी ने विभिन्न दलों के साथ मिल कर आयोजित की महारैली
रमाबाई अम्बेडकर मैदान में लाखों की भीड़ जुटाकर किया शक्ति प्रदर्शन
लखनऊ 09 अक्टूबर। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले एक बार फिर से महागठबंधन का एलान हो चुका है। इस बार महागठबंधन का एलान किसी राजनीति मंच से नहीं, बल्कि सामाजिक संगठन के विशाल मंच से हुआ है। सूबे में बीजेपी को हराने के लिए बहुजन क्रांति मोर्चा, भारत मुक्ति मोर्चा सहित तमाम सामाजिक संगठन सामने आने लगे हैं। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है सूबे में राजनीतिक हलचल बढ़ती जा रही है। बहुजन क्रांति मोर्चा के राष्ट्रीय संयोजक एवं भारत मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष वामन मेश्राम ने बीजेपी को हराने के लिए कमर कस ली है।
गौरतलब है कि शनिवार, 9 अक्टूबर को वामन मेश्राम के नेतृत्व में मान्यवर कांशीराम जी के 15वीं स्मृति दिवस पर बहुजन क्रांति मोर्चा और भारत मुक्ति मोर्चा द्वारा बहुजन मुक्ति पार्टी के समर्थन में आयोजित विशाल महारैली का आयोजन किया गया। प्रदेश के सभी जिलों से लाखों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।
महारैली की अध्यक्षता करते हुए वामन मेश्राम ने कहा, बीजेपी को हराने के लिए हम पहले गठबंधन बनाएंगे और बाद में सेकुलर और परिवर्तनवादी लोगों के साथ मिलकर महागठबंधन भी बनाएंगे। उन्होंने बताया कि जब राजनीतिक पार्टियां स्वयं ही मेरे नेतृत्व में गठबंधन बनाना चाहती हैं तो मैं इसके लिए तैयार हूं। और यह महागठबंधन हम राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा के राष्ट्रीय संरक्षक हजरत मौलाना सज्जाद नोमानी साहब के सहयोग से बना रहे हैं।
इस विशाल महारैली का उद्घाटन करते हुए राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी विकास पटेल ने कहा, आज चारों तरफ अराजकता फैली हुई है। कानून के स्थान पर गुण्डा राज स्थापित हो चुका है। सूखे की जनता योगी सरकार से परेशान होकर सरकार में परिर्वतन लाना चाहती है। इसलिए हम इस महागठबंधन का समर्थन कर रहे हैं और सहयोग भी दे रहे हैं। वहीं मुख्य अतिथि के रूप में शामिल राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा के राष्ट्रीय संयोजक हजरत मौलाना सज्जाद नोमानी ने जनता को पैगाम देते हुए कहा, जुल्म के खिलाफ हर किसी को आवाज उठानी चाहिए। आज केवल सूबे में ही नहीं, बल्कि पूरे मुल्क में हालात ठीक नहीं है। इसलिए सरकार में परिवर्तन होना बहुत जरूरी है।
बहुजन मुक्ति पार्टी के साथ, राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा, भारतीय समाज पार्टी, जन अधिकार पार्टी, भारतीय वीर दल, शोषित समाज पार्टी, पीस पार्टी अपना दल, राष्ट्रीय लोकदल , जन क्रांति पार्टी, राष्ट्रीय मजदूर किसान पार्टी, लोकतान्त्रिक जस्टिस पार्टी, जनता उन्नत पार्टी, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग, बहुजन आवाम पार्टी, महान समाजवादी पार्टी, इंसाफवादी पार्टी, गदर पार्टी, राष्ट्रीय भागीदारी पार्टी आदि संगठनों ने भी इस महारैली को सफल बनाने के लिए बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और रैली को संबोधित किया।

Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave a Reply