28 C
Lucknow
Tuesday, December 6, 2022

नगर विकास मंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए नगरीय निकाय के अधिकारियों को नागरिकों की समस्याओं को लेकर दिए निर्देश

कहा- डेंगू, मलेरिया व संचारी रोग से लोगों को बचाने के लिए उन्हें करें जागरूक

लखनऊ। प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने शहरों में मच्छर जनित बीमारियों, डेंगू के बढ़ते मामलों और संचारी रोग को देखते हुए सभी नगरीय निकायों के अधिकारियों के साथ आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सभी निकाय नागरिकों को राहत देने के लिए तथा जनता की शिकायतों का समाधान करने के लिए अपने अपने मुख्यालय में डेडिकेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर शीघ्र स्थापित करें।

स्वास्थ्य विभाग से समन्वय कर डेंगू, मलेरिया के मरीजों को जल्द से जल्द राहत पहुंचाएं तथा गंभीर मरीजों की स्वयं जाकर नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराएं और नियमित रूप से मरीजों का हालचाल जानने का प्रयास करें। घर में भी को मरीज इलाज करा रहे हैं उनसे भी संपर्क बनाए रखे। उन्होंने कहा कि शहरों में परिस्तिथिया गंभीर न होने पाए तुरंत इसका समाधान निकालें।मॉनिटरिंग की कोविड जैसी व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने साफ-सफाई और बीमारी के प्रति लोगों को जागरूक करने को कहा।

उन्होंने डेंगू, मलेरिया बुखार को फैलने से रोकने के लिए लगातार फागिंग करने,एंटी लार्वा का छिड़काव, जला मोबाइल का प्रयोग करने तथा जलभराव वाले स्थानों एवं नाले नालियों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने नागरिकों की परेशानियों को देखते हुए सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को छुट्टियों में भी कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रयागराज, अयोध्या एवं गोरखपुर में परिस्थितियों को नियंत्रित करने के लिए निदेशक स्थानीय निकाय नेहा शर्मा को भी निर्देश दिए कि वहां पर जो भी आवश्यक हो उन संसाधनों का प्रयोग तत्काल किया जाए।

नगर विकास मंत्री एके शर्मा ने सभी नगर निगमों के नगर आयुक्तों, नगर पालिका परिषदों और नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारियों, निदेशक नगरी निकाय नेहा शर्मा से वर्चुअल संवाद कर ‘नगर सेवा पखवाड़ा’ अभियान को युद्धस्तर पर चलाने एवं संचारी रोग, मच्छर जनित बीमारियों डेंगू, चिकनगुनिया, सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने आज अपने 14 कालिदास आवास में प्रदेश की सभी 763 नगरीय निकायों के अधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक कर लोगों के जीवन स्तर को सुधारने के लिए हाईटेक व्यवस्था पर कार्य करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि सभी निकाय अधिकारी छोटी-बड़ी सभी प्रकार की मशीनों का प्रयोग कर शीघ्र ही लोगों को डेंगू, चिकनगुनिया व संचारी रोग से मुक्ति दिलाएं। कहा कि नियमित रूप से ऐसे क्षेत्रों की जांच करते रहें, जहां कहीं पर भी इसकी संभावना हो वहां तत्काल फागिंग कराएं, एंटी लार्वा का छिड़काव कराए। उन्होंने कहा कि सफाई नियमित रूप से कराई जाए, कहीं पर भी कूड़ा नहीं दिखना चाहिए, नाले नालियों की सफाई कराई जाए। जलभराव वाले स्थानों पर दवा का छिड़काव करें और जल निकासी का भी प्रबंध कराएं।

श्री शर्मा ने अलीगढ़, कानपुर एवं लखनऊ के नगर आयुक्तों को सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के साथ वर्तमान परिस्थितियों से युद्ध स्तर पर निबटने को कहा। उन्होंने टोल फ्री नंबर 1533 की व्यवस्था को पूर्ण रूप से संचालित करने तथा डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन और नियमित रूप से कूड़ा उठा ऊठान पर बल देने को कहा। उन्होंने कहा कि अयोध्या, प्रयागराज, मथुरा, वृंदावन, वाराणसी, तथा चित्रकूट एवं अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों पर डेंगू के रोगियों एवं इसके फैलाव पर विशेष सावधानी बरतें क्योंकि यहां पर तीर्थ यात्रियों का एवं बाहरी लोगों का आना जाना होता रहता है। समीक्षा के दौरान अधिकारियों ने बताया कि पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष डेंगू के कम केस आए हैं और जहां पर भी ऐसे केस आ रहे हैं वहां पर विशेष सावधानी बरती जा रही है। आज की वर्चुअल संवाद में सभी निकाय अधिकारियों के साथ 1000 से अधिक लोगों ने प्रतिभाग किया।

Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave a Reply