राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत कई नेताओं ने दी जन्माष्टमी की देशवासियों को शुभकामनाएं

नई दिल्ली। जन्माष्टमी का पर्व आज देशभर में बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस मौके राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत तमाम नेताओं ने देशवासियों को बधाई दी है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने देशवासियों को जन्माष्टमी की बधाई देते हुए लिखा, इस शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। यह पर्व भगवान श्री कृष्ण के जीवन-चरित के बारे में जानने और उनके संदेशों के प्रति स्वयं को समर्पित करने का अवसर है। मेरी कामना है कि यह त्योहार सभी के जीवन में सुख, स्वास्थ्य तथा समृद्धि का संचार करे।

पीएम मोदी ने अपने ट्विटर पर लिखा, सभी देशवासियों को जन्माष्टमी के पावन पर्व की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। जय श्रीकृष्ण!

गृह मंत्री अमित शाह ने देशावासियों को जन्माष्टमी की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि समस्त देशवासियों को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं। जय श्री कृष्ण!

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी दी बधाई देते हुए लिखा कि जन्माष्टमी के पावन पर्व की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी जन्माष्टमी के इस पावन पर्व पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी है। उन्होंने कहा, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर समस्त देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। हम सभी उनके दिखाए आदर्शों, गीता के उपदेशों व कर्मयोग के ज्ञान को आत्मसात करने का संकल्प लें! भगवान श्री कृष्ण सभी को सुख, समृद्धि एवं आरोग्य प्रदान करें। जय श्रीकृष्ण!

कांग्रेस ने भी अपने ट्विटर पर लिखा कि देशवासियों को श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं। इस पावन अवसर पर कांग्रेस परिवार प्रभु श्री कृष्ण से देशवासियों के सुख, सपंत्ति, स्वास्थ्य की मंगलकामनाएं करता है।

यूपी के मथुरा के साथ ही देश के तमाम कृष्ण मंदिरों में सुबह से ही हरे रामा हरे कृष्ण के गीतों साथ ही जयकारे गुंज रहे हैं। लेकिन कोरोना संकट के चलते भगवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव पर भव्य कार्यक्रम नहीं आयोजित हो रहे हैं। हालांकि यूपी सरकार ने रात में आज कोरोना कफ्र्यू की छूट दी है।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − ten =