तालिबान का मकसद आतंक का राज कायम करना: कल्बे जव्वाद

लखनऊ। तालिबान का अफगानिस्तान में आतंक जारी है। सभी देश वहां से अपने नागरिकों को निकालने में जुटे हुए है। इसी बीच तालिबान को लेकर पत्रकारो से बात करते हुए शिया मुस्लिम धर्म गुरु कल्बे जव्वाद ने कहा कि तालिबान का यह कानून इंसानियत के खिलाफ है।

उन्होंने कहा कि तालिबान ऐसा संगठन है जिसमें इंसानियत नाम की कोई चीज नहीं है। यह तो जानवरों से भी बत्तर हैं। ये इतना गिर गए है कि बच्चों की जान लेने तक में नहीं हिचकते। साथ ही कहा कि पाकिस्तान के स्कूली बच्चों पर तालिबान ने ही आतंकी हमला किया कराया था।

शिया मुस्लिम धर्म गुरु ने कहा कि तालिबान से अफगानिस्तान को बचाने के लिए सभी देशों को एक साथ आना पड़ेगा। लेकिन पूरी दुनिया इस समय अफगानिस्तान की ओर देख रही है। फिर भी तालिबान को पस्त करने की नहीं सोची जा रही है।

बात दें कि रविवार को शिया मुस्लिमों ने कर्बला के मैदान में शहीद हुए हजरत इमाम हुसैन और उनके 71 साथियों की याद में तीजे का शोक मनाया। इसमें शामिल होने आए शिया धर्म गुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने मोहल्ला मोहनपुरा में यह बातें कहीं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × four =