काबुल में बेरोजगारी और गरीबी पर रिपोर्टिंग कर रहे टोलो न्यूज के पत्रकार की पिटाई

नई दिल्ली। तालिबान का अफगानिस्तान में आतंक जारी है। लेकिन वह बदलने के तमाम दावे जरूर कर रहा है। तालिबान लगातर पत्रकारों को निशाना बना रहा है। तालिबान की यह हरकतें सब गलत साबित कर रही हैं। ताजा जानकारी के मुताबिक, तालिबान के एक बार फिर कुूर चेहरा सामने आया है। अब अफगानिस्तान के प्रमुख मीडिया संस्थान टोलो न्यूज के पत्रकार जियार याद की जमकर पिटाई की और साथी कैमरामैन की भी पीटा। जियार याद काबुल में बेरोजगारी और गरीबी को लेकर रिपोर्टिंग कर रहे है।

जियार याद की मौत की खबर आ रही थी। लेकिन पत्रकार ने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है कि काबुल के बाहरी इलाके में तालिबान ने उन्हें बुरी तरह से पीटा। जिसके बाद उनके उपकरण छीन लिए। लेकिन वह अब सकुशल है। जियार ने बताया कि तालिबानी एक लैंड क्रूजर से आए और उन लोगों ने रायफल के दम पर पीटा।

इतना की नहीं इससे पहले भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की कबरेज के दौरान हत्या कर दी है। लोग इसके अभी भूले भी नहीं थे कि शुक्रवार को अफगान के सरकारी सूचना मीडिया केंद्र के निदेशक की गोली मारकर हत्या कर दी। वह उस दौरान नमाज पढ़ने गए थे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 − two =